Car Insurance कैसे Calculate किया जाता है? कैसे कैल्क्युलेट होता है आपकी कार का इंश्योरेंस प्रीमियम

Car Insurance Kaise Calculate Kiya Jata Hai, कार इन्शुरन्स प्राइस,कार इन्शुरन्स online,कार इन्सुरेंस प्रीमियम,कार इन्सुरेंस प्रीमियम कैसे कैलकुलेट किया जाता है

कई बार हम जब अपने Car का Insurence करवाने जाते है तो हम कई बार कुछ Common Word सुनने को मिलते है जैसे इंश्योर्ड डिक्लेयर्ड वैल्यू यानी आईडीवी, नो क्लेम बोनस यानी एनसीबी, डेप्रिसिएशन आदि टर्म ।
पर क्या आपने कभी सोचा है कि आपकी कार का इन्सुरेंस प्रीमियम कैसे Calculate किया जाता है।अगर आपने आज से पहले इसके बारे में कभी नही सुना कि Kaise Calculate Kiya Jata hai Aapki Car Ka. Insurance Premium.तो आज हम आपको इसी के बारे में बताने जा रहे है।तो चलिए शुरू करते है।

Car Insurance Kaise Calculate Kiya Jata Hai, कार इन्शुरन्स प्राइस,कार इन्शुरन्स online,कार इन्सुरेंस प्रीमियम,कार इन्सुरेंस प्रीमियम कैसे कैलकुलेट किया जाता है

कई बार हम जब अपने Car का Insurence करवाने जाते है तो हम कई बार कुछ Common Word सुनने को मिलते है जैसे इंश्योर्ड डिक्लेयर्ड वैल्यू यानी आईडीवी, नो क्लेम बोनस यानी एनसीबी, डेप्रिसिएशन आदि टर्म ।

इन सिम्पल से Method से किया जा सकता है Calculate

Car Insurance Kaise Calculate Kiya Jata Hai, कार इन्शुरन्स प्राइस,कार इन्शुरन्स online,कार इन्सुरेंस प्रीमियम,कार इन्सुरेंस प्रीमियम कैसे कैलकुलेट किया जाता है

जिससे आप आसानी से अपनी Car का Insurence प्रीमियम Calculate कर पाएंगे।

दो तरह के होते है Car Insurence

Car Insurence नॉर्मली दो तरह के होते है-
1 Own Damage Comprehensive Cover
2 Third Party Cover


Own Damage Comprehensive Cover प्रमुख Car की Age पर और Car की Capacity पर निर्भर करता है।जबकि Third Party Cover Insurence Car की Capacity पर ही निर्भर करता है।
Car Insurance को समझाने के लिए हम उदाहरण के तौर पर Alto को लेते है जो कि 1 साल पुरानी है क्योंकि 1 साल पुरानी कार पर Car Insurance समझने में आसानी होगी।


अगर आपकी अल्टो कार एक साल से ज्यादा पुरानी है और 2 साल से कम की है तो इसपर Apply होने वाली Insurance डिक्लेयर्ड Value Car की X Showroom Price की 80 फीसदी होगी। अगर कार की X Showroom कीमत 4 लाख रुपये है तो इसका 80 फीसदी हुआ 3 लाख 20 हजार रुपये।

कैसे किया जाता है Premium Calculate


अब इसके बाद 3.127 फीसदी के हिसाब से Premium Calculate किया जाएगा। यह 3 लाख 20 हजार रुपये पर लगेगा। इस हिसाब से जो धनराशि बनेगी वह होगी 10 हजार रुपये।
अब, Insurance Premium की बारी आती है। यह कंपनी दर कंपनी अलग होती है। कई कम्पनियां Premium Amount पर कुछ फीसदी का Discount देती हैं। आइए इसे एक उदाहरण की नजर से समझें। मान लीजिए​ कि कोई कंपनी 50 फीसदी Discount दे रही है तो 10 हजार रुपये की 50 फीसदी धनराशि हुई 5 हजार रुपये।


अब जो अगला और महत्वपूर्ण पड़ाव होता है, वह है No Claim Bonus। इससे पता लगता है कि आपको Insurance के लिए कितनी धनराशि देनी है। अगर आपने बीते साल Insurance के लिए क्लेम नहीं किया होता है तो आपको प्रीमियम में तकरीबन 20 फीसदी की छूट मिल जाती है। यह छूट आगामी सालों में बढ़ती जाती है अगर आप इंश्योरेंस क्लेम नहीं करते हैं। याद रहे कि हम एक साल से ज्यादा और दो साल से कम उम्र की कार के बारे में बात कर रहे हैं। इस लिहाज से देखा जाए तो 5 हजार रुपये पर 20 फीसदी नो क्लेम बोनस के हिसाब से बनते हैं एक हजार रुपये। इस लिहाज से आपको प्रीमियम धनराशि यानी 5 हजार रुपये में 1 हजार रुपये छूट मिल जाती है और आपको महज 4 हजार रुपये बतौर प्रीमियम चुकाने होते हैं।

कैसे की जाती है Accident की भरपाई


अगल पड़ाव है थर्ड पार्टी प्रीमियम। यह आपके अलावा किसी दूसरे शख्स की चोट या नुकसान की भरपाई के लिए होता है। प्रीमियम की धनराशि कार के इंजन की क्षमता के हिसाब से तय होती है। यह साल दर साल रिवाइज होती रहती है। उदाहरण के तौर पर अल्टो कार 1 हजार सीसी के नीचे है तो इसका प्रीमियम होगा 1,468 रुपये। 1 हजार से 1,500 सीसी क्षमता के इंजन वाली कारों के लिए 1,598 रुपये बतौर प्रीमियम शुल्क चार्ज किए जाते हैं। जबकि 1,500 सीसी से ज्यादा वाले व्हीकल्स के लिए 4,931 रुपये देने होते हैं। ऐसी स्थिति मेें आपको 1,468 रुपये, जो कि 1 हजार सीसी इंजन से ज्यादा व्हीकल के लिए है, 4 हजार रुपये में जुड़ जाएगा। ऐसे में कुल धनराशि देनी होगी 5,468 रुपये।


अब बचता है आखिरी स्टेप। इंश्योरेंस के प्रीमियम की कुल धनराशि में पर्सनल एक्सिडेंट कवर और सर्विस टैक्स भी जुड़ता है। 100 रुपये बतौर पर्सनल एक्सिडेंट कवर जुड़ते हैं। जबकि 14 फीसदी का सर्विस टैक्स लगता है। अब अगर कुल धनराशि देखी जाए तो 5,486 रुपये का 14 फीसदी और इसमें 100 रुपये Accident Cover के जोड़ने होंगे। ऐसे में कुल धनराशि बनती है 6,348 रुपये।


तो ये था तरीका Insurance Calculation का। उम्मीद है कि अब आप खुद भी आसानी से Insurance Calculate कर सकेंगे।

2 Comments on “Car Insurance कैसे Calculate किया जाता है? कैसे कैल्क्युलेट होता है आपकी कार का इंश्योरेंस प्रीमियम”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *